सोने में तेजी, क्या 40 हजार के पार जाएगा भाव?

पिछले कुछ दिनों से सोना हर दिन तेजी के नए रिकॉर्ड बना रहा है. 12 अगस्त को दिल्ली के सर्राफा बाजार में हाजिर सोना 38,470 रुपये प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया. वहीं, कमोडिटी एक्सचेंज एमसीएक्स पर मंगलवार (13 अगस्त) को सोने का भाव 38555 रुपये प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया. ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि क्या सोना 40 हजार रुपये का स्तर छू सकता है. एमसीएक्स पर सोने में एक महीने में करीब 10 फीसदी और साल भर में करीब 30 फीसदी की तेजी आ चुकी है.

सोने की कीमतों में तेजी का रुख जारी रहने के आसार हैं. इसकी मुख्य रूप से 4 वजहें हैं. पहला, अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वॉर बढ़ने से सोने की सुरक्षित निवेश मांग बढ़ी है. फिलहाल ट्रेड वॉर खत्म होने के संकेत नहीं दिख रहे हैं. ऐसे में सोने में आगे भी तेजी दिख सकती है. दूसरा, भारत में त्योहारी सीजन शुरू होने वाला है. ऐसे में सोने-चांदी में मांग दिख सकती है. मांग बढ़ने का असर इन धातुओं की कीमतों पर पड़ेगा.

सोने में तेजी की तीसरी वजह यह है कि वैश्विक मंदी की आशंका जताई जा रही है. इसका असर भी सोने और चांदी की कीमतों पर पड़ रहा है. जर्मनी में औद्योगिक उत्पादन में पिछले 10 साल में पहली बार बड़ी गिरावट आई है. जापान और भारत में भी औद्योगिक उत्पादन में भारी गिरावट दिख रही है. जून में भारत की औद्योगिक उत्पादन की रफ्तार गिरकर पिछले साल के 7 फीसदी के मुकाबले 2 फीसदी पर आ गई. जिससे यह आशंका बढ़ गई कि विश्व अर्थव्यवस्था एक दशक में अपनी पहली मंदी के करीब जा सकती है.

सोने में तेजी की चौथी वजह यह है कि मध्य पूर्व में राजनीतिक तनाव और हांगकांग में लोगों के प्रदर्शन के चलते दुनियाभर के शेयर बाजारों पर दबाव दिखा है. इससे लोग सुरक्षित निवेश के लिए सोने में पैसा लगा रहे हैं.
क्या है बोक्ररेज हाउस की राय? मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज में एवीपी (कमोडिटी एवं करेंसी) अमित सजेजा का कहना है कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में इस साल के अंत तक सोने का भाव मौजूदा स्तर से करीब 125-150 डॉलर और चढ़ सकता है. उनका कहना है कि विदेशी बाजार में सोना 1650 डॉलर प्रति औंस का स्तर दिख सकता है. इस वजह से इस साल के अंत तक घरेलू बाजार में सोने का भाव 42000 रुपये प्रति ग्राम तक जा सकता है.

दुबई स्थित एमीरेट्स एनबीडी के एवीपी (कमोडिटी एंव फॉरेक्स) धर्मेश भाटिया ने ईटी से कहा कि भू-राजनीतिक तनाव और मंदी के डर से एमसीएक्स पर दिवाली तक सोने का भाव 40 हजार रुपये प्रति दस ग्राम के पार जा सकता है.

वैश्विक समूह गोल्डमैन सैक्स समूह के विश्लेषकों का कहना है कि अगले छह महीनों में विदेशी बाजार में सोने का भाव 1,600 डॉलर प्रति औंस तक पहुंच जाएगा. समूह का कहना है कि लोग सुरक्षित निवेश के लिए सोने में दांव लगा रहे हैं.
गोल्डमैन सैक्स ने कहा है कि इस साल गोल्ड ईटीएफ के लिए सोने की मांग 300 टन की जगह 600 टन रहेगी. इसके साथ ही इस बैंक ने सोने को लेकर अपने पुराने अनुमान को बढ़ाया है, क्योंकि बैंक का 1,475 डॉलर प्रति औंस का अनुमान हिट हो गया है. इसी तरह से यूबीएस ग्रुप एजी और सिटीग्रुप इंक को भी सोने में तेजी की उम्मीद है. इनका कहना है कि आने वाले दिनों में सोने का भाव 1,600 डॉलर प्रति औंस तक जा सकता है.

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *