सेंसेक्स टुडे | शेयर बाजार: बड़ी गिरावट, ईरान-अमेरिका के बीच तनाव बढ़ने का असर

नई दिल्ली: सप्ताह के पहले दिन घरेलू शेयर बाजार बड़ी गिरावट के साथ खुले. प्रमुख सूचकांकों पर बिकवाली हावी नजर आई. अमेरिका और ईरान के बीच बढ़ रहे भूराजनीतिक तनाव ने खरीदारों को बाजार से दूर रखा.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान को चेतावनी देते हुए कहा कि अमेरिका हर कार्रवाई का ऐसा बदला लेगा, जो किसी ने सोचा भी नहीं होगा. ईरान ने पहले ही बदला लेने का एलान कर दिया था और इस वजह से दोनों ही मुल्कों में तनाव बढ़ा हुआ है.

इराक की सरकार ने सभी विदेशी सेनाओं को देश से बाहर करने का आदेश दिया है. इराक में ही अमेरिका की एयर स्ट्राइक में ईरान के सैन्य जनरल कासिम सुलेमानी की मौत हुई थी. इस हमले में इराकी सैन्य अधिकारी भी मारे गए थे.

सुबह 9.30 बजे, बीएसई सेंसेक्स 377 अंक या 0.91 फीसदी का गोता लगाकर 41,088 के स्तर पर ट्रेड कर रहा था. वहीं, निफ्टी 50 इंडेक्स भी 108 अंक या 0.89 फीसदी की गिरावट के साथ 12,118 पर कारोबार करते हुए नजर आया.

शुक्रवार को अमेरिकी शेयर बाजारों ने बड़ी गिरावट दर्ज की. डाव जोन्स ने 0.81 फीसदी तक की गिरावट दर्ज की, जबकि एसएंडपी 500 इंडेक्स ने 0.71 फीसदी तक कमजोरी दिखाई. नेस्डेक कंपोजिट ने 0.79 फीसदी तक का गोता लगाकर सप्ताह का अंत किया.

बीएसई मिडकैप इंडेक्स और स्मॉलकैप इंडेक्स ने पौने दो फीसदी तक का गोता लगाया. बीएसई पर आईटी, टेक और कंज्यूमर ड्यूरेबल इंडेक्स के अलावा अन्य सभी सेक्टर ने निराश किया. मेटल, एनर्जी, फाइनेंस, ऑटो और युटिलिटीज इंडेक्स ने डेढ़ फीसदी तक की गिरावट दर्ज की.

बीएसई सेंसेक्स पर टाइटन कंपनी के शेयर 1.86 फीसदी की तेजी के साथ 1,160.70 रुपये के हो गए. टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज के शेयर 0.77 फीसदी की बढ़त के साथ 2,217 रुपये तक पहुंचे. इसके अलावा सिर्फ एचसीएल टेक्नोलॉजीज और इंफोसिस के शेयर ही हरे निशान में दर्ज किए गए.

दूसरी तरफ, भारतीय स्टेट बैंक के शेयर 2.47 फीसदी की गिरावट के साथ 325.50 रुपये के हो गए. एशियन पेंट्स के शेयर 2.44 फीसदी टूटकर 1,708.95 रुपये तक पहुंचे. पावर ग्रिड, मारुति सुजुकी और एचडीएफसी के शेयर क्रमश: 2.36 फीसदी, 2.03 फीसदी और 1.56 फीसदी टूटे.

सोमवार को कच्चे तेल की कीमत में 2 फीसदी से अधिक की तेजी आई. इसके बाद अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंड क्रूड का भाव $70 प्रति बैरल के पार चला गया. ट्रंप ने इराक पर भी प्रतिबंध लगाने की धमकी दी है, जिससे मध्य पूर्व में तनाव बढ़ गया है. इसका असर भारत पर भी पड़ा. 

बीते शुक्रवार को विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने घरेलू शेयर बाजारों में खूब खरीदारी की. बीते सत्र के दौरान उन्होंने नेट 1263.05 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे. हालांकि, घरेलू संस्थागत निवेशकों ने शुद्ध रूप से 1,029.2 करोड़ रुपये की बिकवाली की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *