सेंसेक्स टुडे | शेयर बाजार: नरम आगाज, ऑटो सेक्टर की चमक बढ़ी

नई दिल्ली: सोमवार को घरेलू शेयर बाजारों ने कमजोरी के साथ सत्र का आगाज किया. कारोबारियों के बीच टेंशन का माहौल है. एशियाई बाजार चढ़े, मगर विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक बाजार में बिकवाली कर रहे हैं. लगातार तीन महीने खरीदारी करने वाले इन निवेशकों ने अब बिकवाली की है.

वैश्विक स्तर पर एशियाई बाजारों का रुख तेजी का रहा. अमेरिका के साथ जारी ट्रेड वॉर के चलते चीन में आर्थिक कमजोरी का माहौल है. जापान के निक्केई ने 0.4 फीसदी तक की तेजी दिखाई और दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.3 फीसदी तक चढ़ा.

सुबह 9.30 बजे, बीएसई सेंसेक्स 76 अकं या 0.19 फीसदी की कमजोरी के साथ 40,369 के स्तर पर कारोबार करते हुए नजर आया. वहीं, निफ्टी 50 इंडेक्स भी 26 अंक या 0.22 फीसदी की गिरावट के साथ 11,895 पर रिकॉर्ड किया गया.

बीएसई सेंसेक्स पर बजाज फाइनेंस के शेयर 1.31 फीसदी गिरकर 3,898.55 रुपये के हो गए. भारतीय स्टेट बैंक के शेयर 0.85 फीसदी लुढ़क कर 317.80 रुपये तक फिसले. आईटीसी, कोटक महिंद्रा बैंक और टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज के शेयर क्रमश: 0.80 फीसदी, 0.76 फीसदी और 0.73 फीसदी टूटे.

दूसरी तरफ, यस बैंक के शेयर 1.88 फीसदी की बढ़त के साथ 57.05 रुपये के हो गए. मारुति सुजुकी के शेयर 1.80 फीसदी की तेजी के साथ 7,005 रुपये तक पहुंचे. वेंदाता, टाटा स्टील और टाटा मोटर्स के शेयर क्रमश: 1.51 फीसदी, 1.41 फीसदी और 1.05 फीसदी तक चढ़े.

वोडाफोन आइडिया के शेयरों ने 7.66 फीसदी का गोता लगाकर 6.38 रुपये का भाव दर्ज किया. कंपनी के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला ने साफ कहा है कि यदि सरकार से मदद न मिली, तो उन्हें अपनी दुकान उठानी पड़ सकती है.

शुक्रवार को विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने भारतीय शेयर बाजार से निकासी का सिलसिला जारी रखा. बीते सत्र के दौरान उन्होंने बाजार में नेट 867.66 करोड़ रुपये की बिकवाली की. हालांकि, घरेलू संस्थागत निवेशकों ने शुद्ध रूप से 210.72 करोड़ रुपये का निवेश किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *