सस्ता नहीं महंगा होने वाला है सोना, जानिए दिसंबर तक कितने बढ़ने वाले हैं दाम

Gold: निवेशकों के लिए भार्गव वैद्य की सलाह है कि सोने में इस लेवल पर आप इन्वेस्ट कर सकते हैं. यह सेफ इन्वेस्टमेंट रहेगा. लेकिन पिछले महीनों में जो आपको रिटर्न मिला था, उसकी उम्मीद अब न करें. फिर सोना थोड़े समय के लिए स्थिर रहेगा.

सोने के भाव में इस साल के शुरुआती 10 महीनों में काफी तेजी उछाल देखने को मिला है. बड़े ब्रोकर्स के मुताबिक, इस साल सोने में करीब 22.5 प्रतिशत का उछाल देखा गया. वायदा में सोने का भाव रिकॉर्ड लेवल 39885 रुपये प्रति 10 ग्राम है. यह लाइफटाइम हाई रेट है. सोने का हाजिर भाव 40000 रुपये के पार चला गया. बेहतर मॉनसून से ग्रामीण भारत में डिमांड बढ़ने का अनुमान है. इस साल फेड रिजर्व ने तीन बार ब्याज में कटौती की है. ट्रेड वार को लेकर अनिश्चितता बरकरार है.

सोने का भाव 1 जनवरी 2019 को 31,434 रुपये था जो 31 अक्टूबर को बढ़कर 38587 रुपये पर जा पहुंचा है. इस साल आज से अगले 60 दिनों में सोना कहां जाएगा, यह देखने वाली बात होगी. बी एन वैद्य एसोसिएट्स के भार्गव वैद्य कहते हैं कि अभी सोने की कीमत नीचे जाने की कोई संभावना नहीं है. लेकिन अभी तक इस साल जो तेजी देखने को मिली, उतनी तेजी नहीं आएगी. दिसंबर अंत तक भारत में सोने का भाव वापस 40000 के लेवल पर वापस आ जाएंगे. कुल मिलाकर अगले 60 दिनों में करीब 1500 रुपये की तेजी सोने में देखने को मिल सकती है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *