पेट्रोल की कीमतों में क्‍यों लगी आग? क्‍या होगा OPEC बैठक में फैसला

पेट्रोल और डीजल के दाम में बढ़ोतरी जारी है. तेल विपणन (Oil Marketing) कंपनियों ने फिर पेट्रोल का दाम दिल्ली में 7 पैसे, कोलकाता में 4 पैसे जबकि मुंबई और चेन्नै में 5-5 पैसे प्रति लीटर बढ़ा दिया है. इस बीच सोमवार से विएना में OPEC देशों की अहम बैठक शुरू हो गई है.

ईरान ने तेल उत्‍पादन में कटौती के फैसले का स्‍वागत किया है. ईरान ने कहा है कि वह ओपेक और गैर ओपेक देशों के इस फैसले पर अमल करने को तैयार है. साथ ही उत्‍पादन कटौती की समय सीमा 6 से 9 महीने तक बढ़ सकती है. यानि मार्च 2020 तक तेल उत्‍पादन में कटौती जारी रहेगी.

अमेरिका को चुनौती
ईरान का यह कदम अमेरिका के लिए चुनौती भरा हो सकता है. अब उसे देखना होगा कि वह कैसे ओपेक देशों को उत्‍पादन में कटौती रोकने के लिए मनाए. ओपेक देशों ने तय किया है कि रोजाना 12 लाख बैरल की कटौती होगी. इन देशों का मानना है कि क्रूड की कीमतों को स्थिर रखने के लिए ऐसा जरूरी है.
अमेरिका की मांग ठुकराई

अमेरिका सऊदी अरब पर लगातार दबाव बना रहा है कि वह तेल उत्‍पादन में कटौती न करे ताकि अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में क्रूड की कीमतें स्थिर रहें. लेकिन अमेरिका की इस मांग को रूस, सऊदी अरब व अन्‍य देशों ने अस्‍वीकार कर दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *