डॉलर के मुकाबले रुपया आज: रुपये में मामूली गिरावट

मुंबई. सोमवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 3 पैसे की कमजोरी के साथ 69.61 पर कारोबार कर रहा था. खाड़ी क्षेत्रों में राजनैतिक तनाव बढ़ने से कच्चे तेल की कीमतो में उछाल आया है. इसके चलते रुपये पर दबाव बढ़ा है.

अपने ड्रोन को मार गिराए जाने के बाद ईरान पर हमला करने जा रहे अमेरिका को एकदम से फैसला बदलना पड़ा है. अब अमेरिका ईरान के खिलाफ प्रत्यक्ष की बजाय परोक्ष युद्ध छेड़ चुका है. इसके तहत ईरान के कई सैन्य प्रतिष्ठानों पर अमेरिका ने साइबर हमले किए. ईरान पर सीधा हमला न करने को विशेषज्ञ अमेरिका की विवशता भी बता रहे हैं.

दोनों देशों का कहना है कि वे युद्ध में जाने से बचना चाहते हैं, लेकिन टैंकरों पर हमले और खाड़ी क्षेज्ञ में ईरान द्वारा अमेरिकी ड्रोन की मार गिराने सहित कई घटनाओं के कारण तनाव बढ़ गया है. अमेरिकी डॉलर के मुकाबले शुक्रवार को रुपया 14 पैसे फिसलकर 69.58 के स्तर पर बंद हुआ था.

घरेलू मोर्चे की बात करें तो पिछले हफ्ते आरबीआई ने अपनी पॉलिसी बैठक के मिनट्स (ब्यौरा) जारी किया है. इसमें आरबीआई सदस्यों ने मोटे तौर पर सुझाव दिया था कि मुद्रास्फीति एमपीसी (मौद्रिक नीति समिति) के अनिवार्य मध्यम अवधि के लक्ष्य के भीतर रहने की उम्मीद है. जोखिमों के बावजूद महंगाई दर 4 फीसदी रहने की संभावना है.

मिनट्स में यह भी उल्लेख किया कि खाद्य कीमतों में निरंतर वृद्धि से मुद्रास्फीति में वृद्धि की चिंता, मानसून से संबंधित अनिश्चितताओं और अंतर्राष्ट्रीय कच्चे तेल की कीमतों में अस्थिरता बनी हुई है. इस पर नजर रखेगी जाएगी. इस हफ्ते, घरेलू मोर्चे पर, कोई बड़ा आर्थिक डेटा जारी होने की उम्मीद नहीं है, लेकिन निवेशकों की नजरें इस सप्ताह होने वाली जी 20 बैठक पर टिकी हैं.

ब्रोकरेज फर्म मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज ने एक रिपोर्ट में कहा, “आज, डॉलर और रुपये की विनियम दर 69.20 और 69.90 की सीमा में कारोबार कर सकती है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *