गोल्ड रेट टुडे: सात साल की ऊंचाई पर टिका सोना, खरीदें या बेचें?

नई दिल्ली: गुरुवार को सोने और चांदी में तेजी आई, क्योंकि कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों और कोरोना वायरस के चलते जोखिमों को कम करने के लिए निवेशकों ने सोने में सुरक्षित निवेश को तरजीह दी.

ब्रेंट क्रूड वायदा 45 सेंट यानी 0.8 फीसदी बढ़कर 59.57 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. बुधवार को अंतरराष्ट्रीय बेंचमार्क ब्रेंट का भाव 2.4 फीसदी उछला था. इस बात को लेकर निवेशकों में चिंता बढ़ी है कि महंगे क्रूड के चलते देश का राजकोषीय घाटा बढ़ सकता है. भारत अपनी पेट्रोलियम जरूरतों को पूरा करने के लिए आयात पर बहुत अधिक निर्भर है.

एमसीएक्स पर दोपहर 12 बजे के आसपास सोने का वायदा भाव 18 रुपये की तेजी के साथ 41,604 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया. चांदी वायदा 73 रुपये की तेजी के साथ 47,643 रुपये प्रति किलोग्राम बोली गई.

ब्रोकरेज फर्म एसएमसी ग्लोबल ने कहा कि बुलियन काउंटर (सोने-चांदी) में उठापटक देखने को मिल सकती है. आज एमसीएक्स पर सोने का अप्रैल वायदा भाव 41,600 रुपये के भाव पर सपोर्ट लेते हुए 41,900 रुपये की ओर बढ़ सकता है, जबकि चांदी 47,500 रुपये के पास समर्थन लेते हुए 48,300 रुपये तक पहुंच सकती है.

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में बुधवार को मार्च 2013 के बाद के उच्चतम स्तर पर पहुंचने के बाद सोने की कीमतों में थोड़ी गिरावट आई. कोरोना वायरस प्रकोप के आर्थिक प्रभाव को कम करने के लिए चीनी प्रोत्साहन उपायों ने निवेशकों को जोखिम वाली संपत्ति का विकल्प चुना. हाजिर सोना 0.1 फीसदी गिरकर 1,609.59 डॉलर प्रति औंस रहा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: