गोल्ड रेट टुडे: रिकॉर्ड ऊंचाई से फिसला सोना, चांदी ₹50,000 के पार

नई दिल्ली: बुधवार को सोने की कीमतों में ऊपरी स्तर से गिरावट देखने को मिली. एमसीएक्स पर सोना अक्टूबर वायदा का भाव 197 रुपये की गिरावट के साथ 39,483 रुपये प्रति दस ग्राम पर था. इससे पहले सोने ने 39777 रुपये प्रति दस ग्राम का रिकॉर्ड बनाया था. हालांकि, एमसीएक्स पर चांदी में जोरदार तेजी जारी है. आज चांदी दिसंबर वायदा 414 रुपये या 0.82 फीसदी की तेजी के साथ 50985 रुपये प्रति किलोग्राम पर कारोबार कर रही थी.

मंगलवार के सत्र में चांदी ने 50 हजार रुपये प्रति किलोग्राम का स्तर पार कर लिया था. इससे पहले 30 अगस्त को ईटी के साथ बातचीत में कई बड़ी ब्रोकरेज फर्मों ने अनुमान जताया था कि नवरात्र तक चांदी का भाव 50 हजार रुपये प्रति किलोग्राम का स्तर छू सकता है. विदेशी बाजारों की बात करें तो सोना हाजिर 0.2 फीसदी की तेजी के साथ 1548.31 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रहा था.

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज में कमोडिटी एवं करेंसी विभाग के एवीपी अमित सजेजा का कहना है कि ऊपरी स्तर से आज सोने में प्रॉफिट बुकिंग दिख रही है. लेकिन अब भी सोने में तेजी के ही संकेत हैं. उनका कहना है कि अमेरिका में मैन्यूफैक्चरिंग के आंकड़ों में अनुमान से ज्यादा गिरावट से डॉलर कमजोर हुआ है. इससे सोना को सपोर्ट मिला है. आमतौर पर जब भी डॉलर गिरता है तो सोने के दाम बढ़ जाते हैं.

अमेरिका में मैन्यूफैक्चरिंग ग्रोथ तीन साल के निचले स्तर पर पहुंच गई है. ऐसे में सजेजा का कहना है कि निवेशकों को सोने में गिरावट को निवेश के मौके के तौर पर लेना चाहिए. मौजूदा स्तर से सोना 100 रुपये टूटे तो निवेश किया जा सकता है. उनका कहना है कि एमसीएक्स पर सोना अक्टूबर वायदा में 39,400 रुपये के आसपास खरीदारी की सलाह है. 39,200 रुपये के भाव पर स्टॉपलास लगाएं और दो कारोबारी सत्रों में 39,820 रुपये प्रति किलोग्राम का लक्ष्य रखें.

ब्रोकरेज फर्म एसएमसी ग्लोबल सिक्योरिटीज के मुताबिक, बुलियन काउंटर में ऊपरी स्तर पर आज मुनाफावसूली दिख सकती है. सोना अक्टूबर वायदा आज 38,800 रुपये तक गिर सकता है वहीं 39100 रुपये के भाव पर प्रतिरोध दिख सकता है. वहीं, चांदी 48200 रुपये तक गिर सकती है जबकि चांदी में 49000 रुपये प्रति किलोग्राम के भाव पर प्रतिरोध दिख सकता है. उधर, मंगलवार को दुनिया के सबसे बड़े गोल्ड फंड एसपीडीआर की होल्डिंग सोमवार के मुकाबले 1.34 फीसदी बढ़कर 890.04 टन पर पहुंच गई.

ब्रोकरेज फर्म इंडिया निवेश रिसर्च ने कारोबारी सलाह में कहा है कि अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वॉर, ब्रेग्जिट की चिंता, हांगकांग में विरोध प्रदर्शन, रुपये में कमजोरी और अमेरिका में मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर की रफ्तार सुस्त पड़ने से सोने की सुरक्षित निवेश मांग बढ़ी है.

इसी तरह से ब्रोकरेज फर्म एसएमसी ग्लोबल सिक्योरिटीज का अनुमान है कि आज बुलियन काउंटर में तेजी दिख सकती है. रिपोर्ट के मुताबिक ब्रेग्जिट को लेकर जारी चिंता से सोने की सुरक्षित निवेश मांग बढ़ने का अनुमान है. इस हफ्ते सोना अक्टूबर वायदा 40 हजार का स्तर छू सकता है जबकि सोने में 39400 रुपये के आसपास सपोर्ट संभव है. वहीं, चांदी की बात करें चांदी दिसंबर कॉन्ट्रैक्ट में भी तेजी दिख सकती है. चांदी ऊपर में 52000 रुपये का स्तर छू सकती है जबकि 50500 रुपये के स्तर पर इसमें सपोर्ट दिख सकता है.

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *