क्रूड ऑयल प्राइस टुडे: क्रूड में तेजी, ओपेक ने दिया सप्लाई घटाने का संकेत

सिंगापुर: कच्चे तेल की कीमतों में तेजी आई है. इसकी वजह सऊदी अरब का बयान है. सऊदी अरब ने कहा है कि कच्चे तेल का उत्पादन करने वाले देशों का संगठन ओपेक और गैर-ओपेक देश रूस कच्चे तेल की सप्लाई में कमी लाएंगे. ऑयल एंड एनर्जी की कीमत और अन्य विवरण देखें पहले से ही ओपेक और गैर-ओपेक देश सप्लाई में कटौती के समझौते का पालन कर रहे हैं. इस साल 1 जनवरी से ओपेक और गैर-ओपेक देश 12 लाख बैरल रोजाना कटौती करने पर 6 महीने के लिए सहमत हुए थे. तब से कटौती जारी है.

उधर, अमेरिका और मेक्सिको के बीच टकराव खत्म होता नजर आ रहा है. गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि उन्होंने मेक्सिको पर शुल्क लगाने की योजना टाल दी है. उन्होंने ट्वीट कर बताया कि मेक्सिको अपने लोगों को अमेरिका के अंदर दाखिल होने से रोकने के लिये कड़ी कार्रवाई करने पर सहमत हो गया है.

ट्रंप ने शुक्रवार रात ट्वीट किया, ”मुझे आपको बताते हुए खुशी हो रही है कि अमेरिका मेक्सिको के साथ समझौते के करीब पहुंच गया है.” हालांकि, कारोबारियों का कहना है कि वैश्विक अर्थव्यवस्था की सेहत को लेकर चिंताएं अब भी हावी हैं. इससे ईंधन की मांग घटने की संभावना है.

सोमवार को ब्रेंट क्रूड वायदा करीब आधा फीसदी की मजबूती के साथ 63.50 डॉलर प्रति बैरल के आसपास कारोबार कर रहा था, जबकि यूएस वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट (WTI) क्रूड वायदा भी 0.60 फीसदी की की तेजी के साथ 54.32 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा था.

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *