कोरोना इफेक्ट: इक्विटी फंडों में डूबा निवेशकों का 25% पैसा

नई दिल्ली: इक्विटी आधारित म्यूचुअल फंड स्कीमों ने निवेशकों को बड़ा झटका दिया है. बीते एक महीने में इन स्कीमों में निवेशकों का 25 फीसदी पैसा डूब गया है. कोरोना वायरस के चलते घरेलू शेयर बाजार में जबरदस्त गिरावट आई है. इसका असर इक्विटी म्यूचुअल फंडों पर पड़ा है.

शेयर बाजार में गिरावट का असर 44 म्यूचुअल फंड हाउसेज पर पड़ा है. आईफास्ट फाइनेंशियल इंडिया के वरिष्ठ रिसर्च विश्लेषक कृष्ण कार्वा ने कहा कि आने वाले समय में मिडकैप और स्मॉलकैप स्कीमों पर दबाव बना रहेगा. घरेलू शेयर बाजार में अस्थिरता जारी रहने वाली है.

मॉर्निंगस्टार इंडिया से मिले आंकड़ों के अनुसार, इक्विटी श्रेणी की सभी स्कीमों ने 19 फरवरी से 18 मार्च के दौरान 25-26 फीसदी तक का नकारात्मक रिटर्न दिया है. इसमें टैक्स फंड, मिडकैप, लार्ड एंड मिडकैप, लार्जकैप, स्मॉलकैप, मिडकैप और मल्टीकैप स्कीमें शामिल हैं.

अलग से देखा जाए तो लार्जकैप और मिडकैप स्कीमों ने 26.63 फीसदी का नकारात्मक रिटर्न दिया है. इसके बाद लार्डकैप स्कीमों (26.58 फीसदी नीचे), मल्टीकैप स्कीमों (26.45 फीसदी नीचे) स्मॉलकैप स्कीमों (26.32 फीसदी नीचे) और मिडकैप स्कीमों (24.84 फीसदी नीचे) का नंबर आता है.

खास बात यह है कि कमजोरी के इस बाजार में सभी स्कीमों का रिटर्न अपने बेंचमार्क इंडेक्स की तुलना में कम रहा है. बेंचमार्क इंडेक्स अपने शिखर स्तर से 40 फीसदी तक का गोता लगाया है.

मॉर्निंगस्टार इंडिया के प्रबंधन शोध के निदेशक कौस्तभ बेलापुरकर ने कहा, “बाजार में पहले भी गिरावट आई है. बाजार में कुछ समय और अस्थिरता बनी रहेगी, जब तक कोरोना वायरस काबू में नहीं आ जाता है. बाजार में रौनक लौटने में कुछ समय लग सकता है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: