ऐसे जानें उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक के कितने शेयर आपको मिले

नई दिल्ली: उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक का आईपीओ 2 दिसंबर से 4 दिसंबर के बीच निवेश के लिए खुला था. इस इश्यू को निवेशकों ने 166 गुना तक सब्सक्राइब किया था. इस इश्यू को सभी श्रेणी के निवेशकों की बंपर प्रतिक्रिया मिली थी. कंपनी के शेयर 12 दिसंबर को शेयर बाजार में लिस्ट होंगे.

यह आईपीओ पहले दिन पूरा सब्सक्राइब हो गया था. अंतिम दिन तक इसे 165.68 गुना तक सब्सक्राइब किया गया था. इसने आईआरसीटीसी के आईपीओ को मात दी, जिसे इस साल अक्टूबर में 112 गुना का सब्सक्रिप्शन मिला था.

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) से मिले आकंड़ों के अनुसार, 750 करोड़ रुपये के इस इश्यू में कुल 12,39,58,333 शेयर बिक्री के लिए पेश किए गए थे, जबकि निवेशकों ने कुल 20,53,66,79,600 शेयरों के लिए बोली लगाई. इश्यू के लिए 36-37 रुपये का प्राइस बैंड रखा गया था.

योग्य संस्थागत खरीदारों (क्यूआईबी) की श्रेणी को 113.80 गुना, गैर संस्थागत निवेशकों की श्रेणी को 486.14 गुना और खुदरा निवेशकों की श्रेणी को 50.16 गुना तक का सब्सक्रिपशन मिला. उज्जीवन के आईपीओ को मंगलवार को दूसरे दिन तक 4.86 गुना तक सब्सक्राइब किया गया था.

निवेशकों को अपने शेयरों के आवंटन की स्थिति जाने के लिए पैन कार्ड, आईपीओ आवेदन संख्या या डिपोजिटरी क्लाइंट आईडी (डीपीआईडी) में से कोई एक चीज अपने पास रखनी होगी. शेयरों का आवंटन मंगलवार से नजर आ सकता है.

इसकी जानकारी इसकी रजिस्ट्रार की वेबसाइस से मिलेगी. कार्वी फिनेट प्राइवेट लिमिडेट इसकी रजिस्ट्रार है. हालांकि शेयरों का कारोबार गुरुवार को लिस्टिंग के बाद ही शुरू होगा. इश्यू का रजिस्ट्रार सेबी पंजीकृत इकाई होती है. रजिस्ट्रार इलेक्ट्रॉनिक रूप से सभी आवेदन को प्रोसेस करती है.

इसमें इश्यू के संपन्न होने के बाद इलेक्ट्रॉनिक तरीके से सफल आवेदकों को शेयरों का आवंटन, रिफंड को जारी करना और अपलोड करना और इश्यू से जुड़ी निवेशकों की तमाम तरीके के शिकायतों और सवालों का निपटारा करना शामिल होता है

उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक से पहले सीएसबी बैंक, आईआरसीटीसी, ऑफल इंडिया और पॉलीकैब इंडिया के आईपीओ को इस साल 50 गुना से अधिक सब्सक्रिप्शन मिला था. इन सभी इश्यू को शेयर बाजार पर जबरदस्त लिस्टिंग मिली थी.

सीएसबी बैंक के शेयर 41 फीसदी के प्रीमियम के साथ 275 रुपये के भाव पर लिस्ट हुए थे, जबकि IRCTC के शेयर 101 फीसदी के प्रीमियम के साथ 644 रुपये पर सूचीबद्ध हुए थे. ऑफल इंडिया के शेयरों 24.82 फीसदी और पॉलीकैब इंडिया के शेयरों को 18 फीसदी प्रीमियम के साथ शेयर बाजार एंट्री मिली थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *